क्या Man vs Wild नकली है?

kya man vs wild fake hai
kya man vs wild fake hai

क्या Man vs Wild नकली है?

आज हम बात करेंगे डिस्कवरी चैनल के सबसे लोकप्रिय धारावाहिक Man vs Wild की आपने सोचा है इसके कूच episodes बेहद हि नकली लगते है तो क्या Man vs Wild नकली है?, चलो इसी बारे मे कुछ बाते हम आपको बतायेंगे फिर आप हि तय कर लो ये show असली है या नकली.

यह शो 2011 से बंद हो गया है, फिर भी आप अक्सर अमेरिका में डिस्कवरी चैनल पर या U.K में बीबीसी पर Man vs Wild के एपिसोड देख सकते हैं इसमे man vs. wild season 7 सबसे ज्यादा देखा गया, जहाँ बात करे Bear Grylls की तो उन्हे बॉर्न सर्वाइवर के रूप में जाना जाता था.

आपने कभी ना कभी Bear Grylls के एडवेंचर शो के कम से कम एक एपिसोड को देखा होगा जहा वो जंगल से होकर गुजरते है और बचने के (survival) तकनीकों का इस्तमाल करते है. यदि आपने ध्यान दिया होगा तो कुछ स्थितिया ज्यादा हि संदेह जनक लगती है जैसे कि उसे जान बुझ कर बनाया हो.

जैसे आलोचको का केहना है Man vs Wild मे कई घटनाओं को production हाउस के माध्यम से तय्यार किया गया था जिस से दर्शको मे आश्चर्यता और उत्सुकता निर्माण हो.

इसी आरोपो के चलते वर्षों के बाद Man vs Wild के Bear Grylls और उसके निर्माताओं द्वारा माफी भी मांगी गई थी, आइए उन सभी कारणों पर एक नज़र डालें जो Man vs Wild पूरी तरह से नकली हैं.

Bear Grylls एक survival विशेषज्ञ नहीं है!

Bear Grylls एक survival विशेषज्ञ नहीं है!

हालांकि Bear Grylls एक survival और बुशक्राफ्ट विशेषज्ञ होने का दावा करते हैं, मगर सेना मे उनकी परीक्षा से पता चलता है कि वह अपने शो को शुरू करने से पहले survival या बुशक्राफ्ट की दुनिया के विशेषज्ञ में दूर तक शामिल नहीं थे.

ग्रिल्स तीन वर्षों के लिए यू.के. के 21 वें एसएएस डिवीजन के एक सदस्य के रूप में सेना में थे, और उस इकाई के हिस्से के रूप में उन्हें survival कौशल में प्रशिक्षित किया गया था, लेकिन ग्रिल्स मूल रूप से basic चीजे मे हि प्रशिक्षित किये गये थे, वो सभी तरह कि survival या बुशक्राफ्ट के लिए प्रमुखता से ट्रेन नही किये गये.

2006 में Man vs Wild के साथ अपने बड़े टीवी ब्रेक से पहले वह 20 से भी ज्यादा अपने प्रसिद्ध अभियानों के प्रचार के कारण प्रसिद्ध हो गए थे, जिसमें प्रमुख थे 23 साल की उम्र में माउंट एवरेस्ट पर चढ़ना.

एक छोटी नाव में उत्तरी अटलांटिक को पार करना, और 25,000 फीट पर एक गर्म हवा के गुब्बारे में डिनर पार्टी करना. हालांकि उन्हे अनुभव जरूर था पर मगर ये जरूरी नहीं कि वो एक survival या बुशक्राफ्ट विशेषज्ञ हों.

जब आप Bear Grylls की तुलना अपने जैसे हि के survival वाले विशेषज्ञों और टेलीविजन सितारों Ray Mears और Les Stroud से करते हैं, तो यह स्पष्ट हो जाता है कि उनका अनुभव उनकी तुलना में कम है.

Ray Mears 1983 से नागरिकों को और सेना को भी बुशक्राफ्ट कौशल सिखाया है. यहां तक कि उन्हें U.K. पुलिस द्वारा एक हत्यारे को ट्रैक करने के लिए उपयोग किया गया था, जो एक भारी लकड़ी के क्षेत्र में छुपा हुवा इसी तरह Les Stroud ने 1990 के बाद से जंगल के survival प्रशिक्षक के रूप में काम किया है, और कनाडाई सेना को कौशल सिखाते है.

वास्तव में जंगल में नहीं रहते

शो के आलोचकों द्वारा लगाए गए कई आरोपों में से एक यह है कि Bear Grylls वास्तव में कई एपिसोड को फिल्माते समय जंगल में नहीं रहे. Man vs Wild मे कई अवसरों पर कमरे की सेवा भी लि थी. सलाहकार के रूप में शो के लिए काम करने वाले survival विशेषज्ञों ने कई मौकों पर ऐसा होने का दावा किया है.

सिएरा नेवादा पहाड़ों में एक एपिसोड को फिल्माते समय, Bear Grylls ने द पाइंस रिजॉर्ट एट बास लेक मे रात के आतिथ्य का आनंद लिया-एक आधुनिक लॉज रिसॉर्ट ऑन-साइट दो रेस्तरां, एक स्पा और अन्य सुविधाएं इसमे मोजूद है एक और अन्य एपिसोड के दौरान Bear Grylls को एक रेगिस्तान द्वीप पर बताया जाता है, जो वास्तव में अमेरिका का हवाई द्वीपसमूह था, जहां उन्होंने फिर से एक स्थानीय होटल में अपनी रातें बिताई थीं.

उनके द्वारा सिखाई गई तकनीक वास्तविक मे सही नहीं हैं

कई मौकों पर, ग्रिल्स ने संदिग्ध survival तकनीकों को प्रस्तुत किया है जो वास्तव में वास्तविक जीवन में उपयोग करने योग्य नहीं हैं. जैसे अफ्रीका की गर्मी में एक एपिसोड को फिल्माते समय ग्रिल्स ने दावा किया कि आप हाथी के गोबर से पानी निचोड़ सकते हैं और पी सकते हैं.

मगर सर्वाइवरमैन स्टार और बुशक्राफ्ट इंस्ट्रक्टर Les Stroud जिन्होंने अफ्रीका में अपने शो के कई एपिसोड फिल्माए हैं – एक एपिसोड दौरान बताया कि हाथी के गोबर से पीने योग्य पेय पानी निचोड़ना असंभव है.

उन्होंने स्वीकार किया है कि यह नकली है

उन्होंने स्वीकार किया है कि यह नकली है

Bear Grylls ने BBC news मे दिये गये interview मे बताया कि अगर लोगों को एपिसोड मे fake या गुमराह महसूस हुआ तो मुझे इसके लिए माफ कि जिये क्युकी मुझे भी production हाउस के हिसाब से चलना पडता था.

डिस्कवरी चैनल ने भी स्वीकार किया कि ज्यादा तर एपिसोड जंगली प्राकृतिक माहोल मे नही फिल्माये गये मगर हम वादा करते है कि अग्ली सिरीस मे हम और अधिक पारदर्शी होंगे. उन्होंने प्रत्येक एपिसोड की शुरुआत में दो सेकंड का डिस्क्लेमर जोड़ा, जिसमें लिखा था, Bear Grylls चालक दल तभी उसकी मदत करता है.

जब स्वास्थ्य सुरक्षा की आवश्यकता के अनुसार या फिर जानलेवा स्थितियों में फसे हो. मगर कुछ अवसरों पर जानबुज कर स्थितियों को प्रस्तुत किया जाता है ताकि वह जीवित रहने की तकनीकों का प्रदर्शन कर सकें. किसी भी खतरनाक वातावरण में प्रवेश करने से पहले पेशेवर सलाह हमेशा लेनी चाहिए.

हमें आपको यही समझाना चाहते है की Man vs Wild पूरी तरह से एक नकली शो है, Bear Grylls एक survival या बुशक्राफ्ट विशेषज्ञ नहीं है, और आपको इस शो में प्रदर्शित होने वाली किसी भी खतरनाक तकनीक का उपयोग नहीं करना चाहिए.

इनटु द वायल्ड विथ Bear Grylls (Into The Wild With Bear Grylls)

अभी फिलहाल tv पर Bear Grylls का नया शो चल रहा है जिसका नाम है Into The Wild With Bear Grylls, जिस पर वो बडे बडे नेता, हिरो, हिरोईन, खिलाडी और भी बोहत से लोगो को शो मे बुलाते है और उनके साथ जंगल मे दिन बिताते है और उनको जंगल मे बचने के survival स्कील सिखाते है.

अब तक उनके शो मे कई बडी बडी हस्ती आचुकी है जीनमे प्रमुख बराक ओबामा, नरेंद्र मोदी, रजनीकांत, और अभी नये मे अक्षय कुमार दिखने वाले है.

Conclusion

हम आशा करते है आपको in hindi site की बतायी गयी जानकारी hindi me पसंद आयी होगी अगर आपको हमे कुछ सुझाव article से रिलेटेड साझा करणे है तो हमे comment मे जरूर बताये, इस article को अपने दोस्तो और प्रिय जनो से जरूर share करे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here